कानूनी पचड़े में फंसे पवनदीप राजन और अरुणिता कांजीलाल, जानिए क्या है मामला?

सोनी टीवी का सिंगिंग रियलिटी शो ‘इंडियन आइडल 12’ (इंडियन आइडल 12) पवनदीप राजन (पवनदीप राजन) के विजेता थे और फर्स्ट रनर अप अरुणिता कांजीलाल (अरुणिता कांजीलाल) वे कानूनी पचड़े में फंसते दिख रहे हैं। टीओआई की एक रिपोर्ट के अनुसार, अरुणिता और पवनदीप पर ऑक्टोपस एंटरटेनमेंट कंपनी के साथ म्यूजिक एल्बम की शूटिंग और प्रचार करने से इनकार करने का आरोप लगाया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक पवनदीप और अरुणिता को जो कानूनी नोटिस मिला है, उसमें लिखा है कि ऑक्टोपस एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड (आईएमपीपीए) द्वारा इंडियन मोशन पिक्चर प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन से संपर्क किया गया था, जिसमें उन्होंने बताया कि सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने पवनदीप और अरुणिता को सेवाएं प्रदान करने के लिए उनके साथ एक समझौता किया।

 प्रतिबद्धता के बावजूद असहयोग का आरोप

ऑक्टोपस कंपनी का कहना है कि उनके लोगों ने इंडियन आइडल 21 के विजेता को 20 रोमांटिक गानों के लिए साइन किया है। पवनदीप और अरुणिता के संबंध में सोनी पिक्चर्स के साथ ऑक्टोपस एंटरटेनमेंट के समझौते के अनुसार, सोनी दोनों अभिनेताओं की सेवाएं प्रदान करने के लिए सहमत हो गई है। इंडियन आइडल के विनर बनने से पहले ये दिया था वादा कंपनी के लोगों ने बहुत पैसा खर्च करके एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में एल्बम के लॉन्च की घोषणा की थी, लेकिन कलाकारों ने एक गाने की शूटिंग के बाद निर्माता के साथ सहयोग नहीं किया।

रिपोर्ट के मुताबिक, सोनी के कमिटमेंट के बावजूद पहले अरुणिता और फिर पवनदीप ने प्रोड्यूसर के साथ शूटिंग में सहयोग करना बंद कर दिया और फिर गाने के रिलीज और प्रमोशन में सहयोग नहीं किया। जब सोनी को इसकी सूचना दी गई तो उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की, बल्कि कलाकारों का समर्थन किया। वहीं, जब IMPPA ने Sony से उनका जवाब मांगा, तो उन्होंने यह कहते हुए ऐसा करने से इनकार कर दिया कि Sony की यह खास कंपनी IMPPA की सदस्य नहीं है।

उन्होंने कहा कि उनकी सोनी कंपनी फिल्मों, वेब सीरीज के साथ-साथ सीरियल के मामलों के लिए केवल निर्माता सदस्यों के साथ काम करती है। सोनी का जवाब मिलने के बाद, IMPPA ने उनसे यह सुनिश्चित करने का अनुरोध किया कि निर्माताओं और कलाकारों के साथ कोई अन्याय न हो। उन्होंने जो वादा किया था उसका पालन करना चाहिए।

+