कभी सलमान खान की मां के लिए निजी काम करते थे मिथुन चक्रवर्ती, आज हैं अरबों के मालिक, इतनी है दौलत

अपने अभिनय और अपने डांस मूव्स से सिनेमा जगत में अपनी एक खास पहचान बनाने वाले मिथुन चक्रवर्ती 80 और 90 के दशक के सुपरस्टार माने जाते हैं. हैदराबाद में जन्मे मिथुन चक्रवर्ती ने कलकत्ता के प्रसिद्ध स्कॉटिश चर्च कॉलेज से पढ़ाई की जहां से उन्होंने केमेस्ट्री की डिग्री प्राप्त की. बेहद साधारण परिवार से ताल्लुक रखने वाले इस अभिनेता ने बॉलीवुड में अपनी जगह बनाने के लिए खूब संघर्ष किया. स्टारडम देखने से पहले मिथुन दा ने आम लोगों की तरह जीवन जिया और गरीबी को बेहद नज़दीक से महूसस किया है|\

‘डिस्को डांसर’

बॉलीवुड की दुनिया में उन्हें ‘डिस्को डांसर’ के रूप में जाना गया मगर ये सब उनके लिए इतना आसान नहीं था. बचपन से ही डांस का शौक रखने वाले इस अभिनेता ने अपने सपने के पीछे लगातार दौड़ लगाई है. बताया जाता है कि फिल्मों में आने से पहले वो स्टेज शो करके पैसे कमाते थे. डिग्री कॉलेज खत्म करने के बाद उन्होंने  पुणे के फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से स्नातक की पढ़ाई पूरी की. मिथुन चक्रवर्ती की आंखों में भी एक स्टार बनने का सपना था और इसी सपने को लेकर वो मुंबई आ गए. मायानगरी पहुंचते ही उनका स्ट्रगल शुरू हो गया. कहा जाता है कि शुरुआती दिनों में मुंबई में उनके पास  रहने या सोने के लिए कोई जगह भी नहीं थी. इस दौरान वे पानी की टंकियों के पीछे सो जाते थे|

स्ट्रगल के दौर

आज हम आपको मिथुन चक्रवर्ती के संघर्ष के दिनों की एक अनसुनी बात बताने जा रहे हैं जिसे सुनकर आप हैरान हो जाएंगे. स्ट्रगल के दौरान मिथुन की मुलाकात मशहूर लेखक सलीम खान की दूसरी पत्नी और अभिनेता सलमान खान की सौतेली मां हेलन से हुई और इसके बाद वो हेलन के लिए बतौर असिस्टेंट काम करने लगे. इसी दौरान उन्हें फिल्म ‘मृगया’ में कास्ट किया गया और इस फिल्म से उन्होंने बॉलीवुड में कदम रख दिया. यह फिल्म हिट हुई थी. मगर कहा जाता है कि इस फिल्म के बाद भी कई सालों तक मिथुन के पास काम नहीं आया. पहली फिल्म हिट होने के बाद भी वो हेलन के लिए काम करते थे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मिथुन ने अपना नाम बदलकर ‘रेज’ रख लिया और अपनी पहचान छिपाने के साथ वे हेलन के असिस्टेंट बन गए|

जब मिथुन हेलन के लिए काम करते थे उस समय उन्हें अमिताभ बच्चन की एक फिल्म में चांस मिल गया और इस फिल्म के बाद से उनके कदम नहीं रुके. मल्टीस्टारर फिल्मों में भी उन्होंने अपने अभिनय की छाप छोड़ी लेकिन फिल्म ‘डिस्को डासंर’ ने उन्हें स्टार बना दिया. उन्होंने लगभग हर शैली की फिल्मों में काम किया. अपने उम्दा अभिनय और फिल्मों की वजह से वो स्टार बन गए. आज वो किसी पहचान के मोहताज नहीं है|

+