प्यार के खातिर आया था भारत बन गया बॉलीवुड का खलनायक- अंग्रेज बन लोगो के दिल में बसे थे।

रॉबर्ट जॉन क्रिस्टो, जिन्हें बॉब क्रिस्टो के नाम से जाना जाता है, एक ऑस्ट्रेलियाई-भारतीय सिविल इंजीनियर और हिंदी फिल्मों के अभिनेता थे। बॉलीवुड इंडस्ट्री में कई ऐसे विलेन हैं जिन्होंने हीरो से ज्यादा नाम और शोहरत हासिल की है।
उन्हें अपना पहला ब्रेक 1980 में हिंदी फिल्म अब्दुल्ला में एक टाइपकास्ट खलनायक के रूप में मिला। क्रिस्टो ने भारत में रहने का फैसला किया और हिंदी, तमिल, तेलुगु, मलयालम और कन्नड़ में 200 से अधिक फिल्मों में दिखाई दिए।

अमिताभ के साथ भी की फिल्मे

वह 1980 और 1990 के दशक की शुरुआत में अमिताभ बच्चन की कई हिट फिल्मों में दिखाई दिए, जिनमें मर्द, कालिया, गेराफ्तार, अग्निपथ, तूफान, जादूगर आदि शामिल हैं। अमिताभ बच्चन का मशहूर डायलॉग ‘हम जहां खड़े होते हैं लाइन वही से शुरू होती है’.
मूवी में बॉब क्रिस्टो रोल) की भूमिका में नजर आए थे। उन्हें हिंदुओं पर अत्याचार करने के लिए एक अंग्रेजी अधिकारी के रूप में भी जाना जाता था। दरअसल, बॉब विदेशी थे, उनका जन्म विदेश में हुआ था। बॉब क्रिस्टो का जन्म 1938 में सिडनी, ऑस्ट्रेलिया में हुआ था। उन्होंने अपनी शिक्षा जर्मनी से की। थिएटर में काम करने के दौरान उनकी मुलाकात हेल्गा नाम की लड़की से हुई।

परवीन बॉबी से कर बैठे प्यार

क्रिस्टो ने पहली बार 1970 में एक कवर पेज पर परवीन बॉबी की तस्वीर देखी और उनकी सुंदरता से प्यार हो गया। परवीन बॉबी से मिलने भारत आने के बाद बॉब की मुलाकात चर्चगेट के पास एक फिल्म यूनिट से हुई। बात करने के बाद पता चला कि इस यूनिट का कैमरामैन अगले ही दिन द बर्निंग ट्रेन के सेट पर परवीन बॉबी से मिलने वाला है। अगले दिन बॉब ने कैमरामैन की मदद से परवीन से भी मुलाकात की।

पहली मुलाकात हुई परवीन से दोस्ती

पहली मुलाकात में उनकी परवीन से दोस्ती हो गई। परवीन बॉबी की मदद से वह हिंदी सिनेमा की दुनिया में कदम रख पाए। फिर साल 1978 में उन्होंने अरविंद देसाई के अजीब किस्सों से बॉलीवुड में डेब्यू किया। इस फिल्म में उनकी एक्टिंग की सभी ने तारीफ की थी। पहली फिल्म से उन्हें जो शोहरत मिली उसने उन्हें लगातार कई फिल्में दीं और अभिनय की दुनिया में उन्होंने अपना नाम कमाना जारी रखा।
अपने अभिनय करियर में, बॉब क्रिस्टो ने न केवल हिंदी में बल्कि तमिल, मलयालम, कन्नड़, तेलुगु और अंग्रेजी भाषाओं में भी 200 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया है।



72 वर्षीय क्रिस्टो का शुक्रवार को दिल का दौरा पड़ने के बाद यहां श्री जयदेव इंस्टीट्यूट ऑफ कार्डियोवास्कुलर साइंसेज एंड रिसर्च में इलाज चल रहा था। वह अपने पीछे पत्नी नरगिस और दो बेटों को छोड़ गए हैं।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *