देहरादून में शुरू हुआ पहला अंतरराष्ट्रीय एप्पल फेस्टिवल, उत्तराखंड का सेब बनेगा

Samchar

नेताओं के बिगड़े बोल तो आपने सुने ही होंगे लेकिन जब किसी मंदिर में ऐसा हो तो आप सोच सकते है क्या होगा। जी हां ऐसा ही कुछ हुआ है। अल्मोड़ा जिले के जागेश्वर मंदिर में। यहां बरेली के आंवला संसदीय सीट से सांसद धर्मेंद्र कश्यप दर्शन करने पहुंचे थे। लेकिन मंदिर परिसर के कपाट बंद होने से उनका गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। आरोप है कि वह यहां दबंगई दिखाने लगे। यहां तक की वह गाली-गलौज तक करने लगे। सांसद के मंदिर के अंदर दबंगई का वीडियों वायरल हो रहा है।

बताया जा रहा है कि धर्मेंद्र कश्यप अक्सर जागेश्वर मंदिर आते हैं। उनके व्यवहार को लेकर पहले भी शिकायत आती रहीं हैं, लेकिन ये घटना बड़ी बताई जा रही है। बताया जा रहा कि प्रबंधक ने शाम छह बजे के बाद किसी तरह के अनुष्ठान पर प्रतिबंध का हवाला दिया। जिस पर दोनों पक्षों के बीच बहस होने लगी और माहौल गरमा गया। उधर,सांसद का आरोप था कि गर्भगृह में प्रवेश के एवज में प्रबंधक सुविधा शुल्क की मांग कर रहे थे। इसी को लेकर बहस हुई। धक्कामुक्की व गालीगलौज से जागेश्वरधाम के पुजारी व समिति के लोग सांसद के खिलाफ लामबंद हो गए और उनका घेराव भी किया गया।

वहीं जागेश्वर मंदिर प्रबंधन समिति (ट्रस्ट) के उपाध्यक्ष गोविंद गोपाल ने कहा कि मंदिर परिसर भक्ति के लिए है और यहां शांतिपूर्ण माहौल बना रहना चाहिए। उन्होंने बताया कि कोरोना काल में कोविड नियमों में कुछ ढील देते हुए मंदिर प्रबंधन समिति ने श्रावण मास के मद्देनजर सायं छह बजे तक श्रद्धालुओं को दर्शन व पूजन की अनुमति दी है। लेकिन सांसद को देर हो गई थी। नियमों के तहत उन्हे रोका गया था। जिसपर मामला बिगड़ गया। वीडियो वायरल होने पर हर कोई सांसद की निंदा कर रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *